हवा चलने लगी है फिर बदलाव की घंटी बज चुकी है आने वाले चुनाव की आओ मिलकर सब एक अभियान करेंगे आओ मिलकर हम सब मतदान करेंगे। अम्मा बहना काकी चाची सुन लो तुम भी भैया भाभी है चुनाव अब जल्दी आने वाले घर घर पहुँचेंगे नेताजी करके सवाल सच झूठ की पहचान करेंगे आओ मिलकर हम सब मतदान करेंगे। सरकार को कोसने के दिन भाग गये अगर अबकी बार तुम जाग गये किया उपयोग मत का अगर होशियारी से वोट दिया जो अपना पूरी तैयारी से खुशहाली के फिर से नये आयाम बनेंगे आओ मिलकर हम सब मतदान करेंगे। कुछ लोग तुमको झूठे सपने दिखाएंगे पैसा का लालच देकर शराब पिलाएंगे इन सबसे तुम बचकर रहना मेरे दोस्त ये तुमको जाति धर्म के नाम पर भटकाएंगे मजहब से ऊपर उठकर लोकतंत्र का सम्मान करेंगे आओ मिलकर हम सब मतदान करेंगे। जैसे फूल फूल चुनकर ही चमन बनता है वैसे वोट वोट जुड़कर प्रजातंत्र का भवन बनता है हर एक मत कीमती है देश की नज़र में खबर ये पहुंचा दो सारे शहर में हम सब मिलकर गणतंत्र का गुणगान करेंगे आओ मिलकर हम सब मतदान करेंगे